Header Ads Widget

Responsive Advertisement

इंदिरा गांधी की हत्या पर झांकी, भारत ने जताया एतराज


 दिल्ली / विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कनाडा में इंदिरा गांधी के हत्याकांड पर निकाली गई खालिस्तानियों की झांकी पर भी एतराज जताया। जयशंकर ने कहा- ये दोनों देशों के रिश्तों के लिए सही नहीं है। उन्होंने कहा- हमें समझ नहीं आ रहा है वहां ऐसा क्यों होने दिया जा रहा है। वोट बैंक की राजनीति के अलावा इसके पीछे कोई दूसरी वजह नहीं दिख रही। इन अलगाववादियों को छूट देना सिर्फ भारत ही नहीं, बल्कि कनाडा के लिए भी अच्छा नहीं होगा।


ब्रैम्पटन शहर में निकाली गई थी झांकी
हाल ही में कनाडा के ब्रैम्पटन शहर में खालिस्तान समर्थकों ने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हत्या की झांकी निकाली थी। इसमें दो सिख गनमैन (सतवंत सिंह और बेअंत सिंह) को भारत की पूर्व प्रधानमंत्री को गोली मारते दिखाया गया। झांकी में ऑपरेशन ब्लू स्टार और 1984 के सिख विरोधी दंगों के बैनर भी थे।  

जयशंकर मोदी सरकार की फॉरेन पॉलिसी की जानकारी दे रहे थे
जयशंकर गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार की 9 साल की फॉरेन पॉलिसी की जानकारी दे रहे थे। उन्होंने कहा- आज लोग भारत को सुनना चाहते हैं और उन्हें लगता है कि भारत के साथ काम करने से उनका प्रभाव बढ़ेगा। जयशंकर ने कहा- दुनिया, विशेष रूप से ग्लोबल साउथ, भारत को विकास के एक भागीदार के रूप में देखता है।

हमें पता है 2024 के चुनाव का नतीजा वही होगा
जयशंकर ने विदेशों में राहुल गांधी के भारतीय लोकतंत्र पर दिए बयानों पर पलटवार किया। उन्होंने कहा- दुनिया देख रही है कि इस देश में चुनाव होते हैं और चुनाव में कभी एक पार्टी जीतती है, कभी दूसरी पार्टी। अगर देश में लोकतंत्र नहीं है तो ऐसा परिवर्तन नहीं आता। ये कहने के बाद जयशंकर ने मुस्कुराते हुए कहा- हमें पता है कि 2024 के चुनाव का नतीजा तो वही होगा।


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ